Stock Market for Beginners in Hindi | शुरुआती लोगों के लिए शेयर बाज़ार हिंदी में

दोस्तों आज हम Stock Market for Beginners in Hindi इस आर्टिकल में आपको शुरुआती लोगों के लिए शेयर बाज़ार में निवेश करने के लिए सबसे पहले क्या क्या जानकारी होना चाहिए इसके बारे में पूरी बिस्तार से बात करेंगे। ज्यादातर देखा गया है की नए निवेशक मार्किट के बारे में बिना कुछ जाने किसी को देखकर निवेश करना शुरु कर देते है, जिसकी वजह से इन निवेशकों को ज्यादातर समय काफी बड़ी नुकशान भी उठाना पड़ सकता हैं, इसलिए शुरुआती लोगों को शेयर बाज़ार में निवेश करने से पहले इसकी सभी बेसिक जानकारी पता होना चाहिए।

धीरे धीरे हर साल देखे तो भारतीय शेयर बाज़ार में शुरुआती लोगों की संख्या में अच्छी तेजी के साथ बर्होतोरी होते देखने को मिल रहा है। इन नए निवेशकों को मार्किट में आने से पहले और इसके बाद में भी बहुत सारे ऐसे सवाल मन में आते रहते है, उन सभी सवालों का जवाव आज हम इस आर्टिकल की मदद से बिस्तार से देने की पूरी प्रयाश करेंगे इससे निवेशकों को आनेवाले दिनों में शेयर बाज़ार में निवेश करने के लिए काफी अच्छी मदद मिलता हुआ नजर आनेवाला हैं।

Stock Market for Beginners in Hindi

शेयर बाज़ार एक ऐसा बाज़ार है जहाँ पर निवेशक मार्किट में लिस्टेड किसी भी कंपनीयों के हिस्सेदारी को आप खरीद सकते हैं। साधारण मार्किट में जिस तरह से लोग कोई भी बस्तु का मौल-भाव करके खरीदारी करते है, उसी अनुसार शेयर मार्किट में भी आप किसी भी कंपनी के शेयर को खरीद सकते हैं। जिस तरह से किसी सामान का डिमांड बढ़ने के चलते इसके प्राइस में भी बर्होतोरी होते नजर आता है, उसी अनुसार जब किसी स्टॉक का मार्किट में डिमांड बढ़ता है इसके प्राइस भी उसी अनुसार बढ़ते हुवे नजर आता हैं।

शुरुआती लोगों के लिए शेयर बाज़ार (Stock Market for Beginners) को बेहतर तरीके से समझने और मार्किट से बेहतर रिटर्न कमाई करने के लिए नीचे बताए गए सभी स्टेप को जरुर ध्यान में रखना चाहिए।

  • एक अच्छा डीमैट खाता चुनना
  • छोटी अमाउंट से निवेश शुरु
  • ट्रेडिंग से दूर रहो
  • सीखने पर ध्यान होना चाहिए
  • लालच से दूर रहो
  • फंडामेंटली मजबूत स्टॉक में निवेश
  • पैनी स्टॉक से दूर रहो
  • अपने पोर्टफोलियो को Diversification करें
  • लम्बे समय के लिए निवेश
Stock Market for Beginners in Hindi

1. एक अच्छा डीमैट अकाउंट चुनना:-

शेयर बाज़ार में निवेश करने से पहले शुरुआती लोगों (Stock Market for Beginners) को सबसे पहला स्टेप अच्छा डीमैट अकाउंट को चुनना बहुत ही जरूरी हैं। शेयर बाज़ार में निवेश करने के लिए आप दो तरह की ब्रोकर में डीमैट अकाउंट को खोल सकते है, पहला है फुल सर्विस ब्रोकर और दूसरा डिस्काउंट ब्रोकर।

फुल सर्विस ब्रोकर अपने अकाउंटहोल्डर को शेयर मार्किट से जुड़ी थोड़ी जानकारी देने के साथ साथ मार्केट टिप्स, वित्तीय सलाहकार जैसी ज्यादातर सुबिधा ऑफर करती हैं, इससे नए निवेशकों को मार्किट के अच्छी तरह से समझने में काफी मदद करता हुआ नजर आता हैं। भारत के कुछ बेहतरीन फुल सर्विस ब्रोकर का नाम है Sharekhan, IIFL, HDFC Securities जैसे और भी बहुत सारे मजूद हैं।

हालाकि फुल सर्विस ब्रोकर अपने अकाउंटहोल्डर को बहुत सारे अलग अलग तरह की सर्विसेज ऑफर करने के चलते इसके AMC (Annual Maintenance Charges) थोड़ी ज्यादा रहता है। अगर आप कम पैसे से मार्किट में सुरवात कर रहे हो तो इस ब्रोकर में अकाउंट नहीं खोलना चाहिए।

डिस्काउंट ब्रोकर अपने अकाउंटहोल्डर को  बाकि ब्रोकर के जैसे कोई भी सर्विसेज ऑफर नहीं करते जिसकी वजह से नए निवेशक बहुत कम पैसे से भी निवेश कर सकते हैं, सभी डिस्काउंट ब्रोकर अपने कस्टमर को ऑनलाइन ही  सर्विसेज देते हुवे नजर आता हैं।

Upstox Demat AccountOpen Here

2. छोटी अमाउंट से निवेश शुरु:-

स्टॉक मार्किट की Beginners लोगो को हमेशा ही छोटी अमाउंट से निवेश की सुरवात करना चाहिए। नए निवेशक शुरुआत में बाजार के बारे में कई बातें को अच्छी तरह से समझ नहीं पाते हैं और भावनाओं में बहकर किसी भी शेयर में मोटा पैसा लगा देते हैं, जिसके चलते इन नए निवेशकों को कभी कभी काफी बड़ी नुकशान भी उठाना पड़ता हैं।

जब आप धीरे धीरे कम अमाउंट के साथ शेयर मार्किट में निवेश करोगे तब आपके शेयर मार्किट की हर उस छोटे से छोटे बेसिक जानकारी को प्राप्त करने में मदद करेगा और धीरे धीरे अपने ऊपर थोड़ी बहुत आत्मविश्वास भी बढ़ेगा तब उस समय आप अपने इन्वेस्टमेंट अमाउंट को थोड़ा थोड़ा करके बड़ा भी सकते हैं।

नए निवेशकों को हमेशा ही सबसे पहले छोटी क्वांटिटी के अन्दर किसी अच्छे शेयर को खरीद लेना चाहिए और उस स्टॉक को हमेशा अच्छी तरह से एनालिसिस करते रहना चाहिए, जब धीरे धीरे कंपनी के पदर्शन सुधारते हुवे नजर आए तभी आपको उस स्टॉक में छोटी छोटी क्वांटिटी के अन्दर अपने निवेश को बढ़ाने के लिए सोचना चाहिए।

3. ट्रेडिंग से दूर रहो:-

शेयर मार्किट में ज्यादातर नए (Beginners) लोग ट्रेडिंग में ही अपने सबसे ज्यादा पैसे को डूबा देते है, जिस वजह से शुरुआती लोगों को ट्रेडिंग से दूर रहने में ही भलाई हैं। शेयर मार्किट में ट्रेडिंग के अन्दर बहुत सारे ऐसे पेरामीटर रहता है जिसको नए लोग अच्छी तरह से समझ नहीं पाते, जैसे जैसे मार्किट में अनुभव बढ़ता है उसी अनुसार आपको ट्रेडिंग से जुड़ी सभी पेरामीटर को अपने आप समझ आ जाता हैं।

ट्रेडिंग के अन्दर ट्रेडर को हमेशा ही हर खबर के साथ अपडेट रहना होता है और मार्किट को एनालिसिस करके ट्रेंड के हिसाव अपने आपको ढलना पड़ता है, जोकि नए निवेशकों के लिए बहुत ही मुस्किल काम दिखाई देती हैं। ज्यादातर नए निवेशक बिना कुछ एनालिसिस करके किसी भी स्टॉक के अन्दर ट्रेडिंग करना शुरु कर देते है जिसकी वजह से ज्यादातर समय काफी बड़ी नुकशान उठाना भी पड़ता है, इसलिए नए निवेशकों को मार्किट से अच्छी कमाई करने के लिए ट्रेडिंग से दूर रहना बहुत ही जरुरी हैं।

4. सीखने पर ध्यान होना चाहिए:-

ज्यादातर देखा गया है की नए (Beginners) लोग शेयर मार्किट में निवेश दुसरों को देखकर याँ फिर दुसरों की बातें को सुनकर अपना निवेश शुरु कर देते है, इसकी वजह इन नए निवेशकों को मार्किट की नॉलेज ना होने के कारण ज्यादातर समय काफी बड़ी नुकशान भी उठाना पड़ता हैं। हर किसी का रिस्क लेने की क्षमता अलग अलग होता है जिस वजह से नए निवेशक अगर कोई भी दुसरो को सुनकर निवेश करते है तो नुकशान होने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाता हैं।

नए निवेशकों को सबसे पहले शेयर मार्किट से दुसरो को देखकर बड़ी रिटर्न कमाई करने के बारे में सोचने की बजाए सीखने पर ध्यान होना चाहिए। आपको हमेशा शेयर मार्किट की किसी भी स्टॉक में निवेश करने से पहले उसको अच्छी तरह से खुद एनालिसिस करना आना चाहिए, इससे आपको बेहतर आइडिया मिलेगा कब उस शेयर को खरीदना सही रहेगा और कब बेचके निकल जाना बेहतर होगा, जिससे आपको बड़ी नुकशान होने की संभावना को काफी हट तक कम किया जा सकता हैं।

5. लालच से दूर रहो:-

शेयर मार्किट की  शुरुआती (Beginners) लोगों को कभी भी दुसरों की बड़ी रिटर्न को देखकर लालच में आकर बड़ी इन्वेस्टमेंट नहीं करना चाहिए, आपको पहले छोटी छोटी अमाउंट में ही प्रॉफिट को बुक करना चाहिए। कोई भी स्टॉक बढ़ने की आपको कितना भी आत्मविश्वास हो उसकी वजह से बड़ी रिटर्न की लालच में पड़कर कभी भी आपको बड़ी इन्वेस्टमेंट नहीं करना चाहिए।

हर किसी स्टॉक के अन्दर बड़ी रिटर्न के साथ साथ इसमें रिस्क भी काफी ज्यादा होता है, अगर आप बड़ी रिटर्न को देखकर लालच में आकर बड़ी इन्वेस्टमेंट करते हो तो इससे आपको काफी बड़ी नुकशान भी उठाना पड़ सकता है, इसलिए आपको कभी स्टॉक की बड़ी रिटर्न को देखकर एकसाथ बड़ी इन्वेस्टमेंट से दूर रहने में ही भलाई नजर आती हैं।

6. फंडामेंटली मजबूत स्टॉक में निवेश:-

शेयर मार्किट में कम रिस्क के साथ अच्छी रिटर्न कमाई करने और शुरुआती (Beginners) लोगों के लिए फंडामेंटली मजबूत स्टॉक में निवेश बहुत ही बढ़िया आप्शन नजर आती हैं। भारतीय शेयर मार्किट के अन्दर Hindustan Unilever, Reliance, Asian Paints जैसे बहुत सारे ऐसे फंडामेंटली मजबूत स्टॉक जो हर साल अपने बिज़नस के अन्दर अच्छी ग्रोथ दिखाने के साथ साथ शेयरहोल्डर को भी लम्बे समय से काफी अच्छी रिटर्न कमाई करके दिया हैं।

आप यदि इस तरह की फंडामेंटली मजबूत स्टॉक में निवेश करते हो तो आप शेयर मार्किट से नुकशान होने की संभावना को काफी हट तक कम किया जा सकता है, क्यंकि इस तरह की कंपनीयों का बिज़नस मार्किट में एक मजबूत ब्रांड वैल्यू को स्थापित किया है, जिस वजह से मार्किट में कंपनी बहुत ही आसानी के साथ अपने बिज़नस को फ़ैलाने में कामियाब होता है, जिसका फ़ायदा शेयरहोल्डर को मिलता हुआ नजर आता हैं।

7. पैनी स्टॉक से दूर रहो:-

शेयर बाज़ार में शुरुआती (Beginners) लोग ज्यादातर अपने पैसे को पैनी स्टॉक के अन्दर निवेश करना पसंद करते हुवे नजर आता है, क्यंकि इसका प्राइस बहुत ही कम होने के कारण नए लोग कम समय में ही बड़ी रिटर्न मिलने की उम्मीद करता हुआ नजर आता हैं। ज्यादातर समय देखे तो इन पैनी स्टॉक का बिज़नस का कोई भी भविष्य नहीं होता है, जिस वजह से भले ही छोटी अवधि के अन्दर शेयर की प्राइस में थोड़ी बहुत उछाल देखने को मिले लेकिन लम्बे समय के अन्दर आपको गिरावट ही दिखाते हुवे नजर आता हैं।

इसके साथ ज्यादातर पैनी स्टॉक का मार्किट कैप बहुत ही कम होने के कारण कोई भी बड़े निवेशक आसानी के साथ कंपनी के स्टॉक की प्राइस को हेरफेर कर सकता है, जिसकी वजह से पैनी स्टॉक में निवेश करनेवाली ज्यादातर निवेशकों को काफी बड़ी नुकशान उठाना पड़ता है, जिस वजह से नए निवेशकों को पैनी स्टॉक में निवेश करने से बचना चाहिए।

8. अपने पोर्टफोलियो को Diversification करें:-

समय समय पर देखा जाए तो शेयर मार्किट में कोई सेक्टर ऊपर जाता है तो उसी अनुसार कोई सेक्टर में गिरावट भी होते देखने को मिलता है, इसी उतार – चढ़ाव से अपने निवेश किया हुआ पोर्टफोलियो को बैलेंस में रखने के लिए सभी निवेशकों को अपने पोर्टफोलियो में अलग अलग सेक्टर की कंपनीयों के अन्दर निवेश को Diversification करना बहुत ही जरुरी हैं। 

शेयर मार्किट की ज्यादातर नए (Beginners) लोग अपने पैसे को किसी एक ही पसंदीदा स्टॉक के अन्दर निवेश करते हुवे नजर आता है जिसकी वजह से मार्किट की उतार – चढ़ाव के चलते पोर्टफोलियो में कभी कभी काफी ज्यादा गिरावट होते देखने को मिलता है, इसी को बैलेंस में रखने के लिए हर निवेशकों को अपने पोर्टफोलियो को अलग अलग सेक्टर की शेयरों में Diversification जरुर करना चाहिए।

9. लम्बे समय के लिए निवेश:-

किसी भी  कंपनी का अगर बिज़नस अच्छा है तो भले ही छोटी अवधि के अन्दर शेयर प्राइस में अच्छा पदर्शन देखने को ना मिले लेकिन लम्बे समय के अन्दर इसके शेयर प्राइस में जरुर बहुत ही बेहतरीन ग्रोथ देखने को मिलनेवाला हैं। शेयर मार्किट में हर रोज कोई ना कोई न्यूज़ रहता है और इसके कारण शेयर प्राइस में काफी ज्यादा उतार – चढ़ाव रहता है जिसके कारण छोटी अवधि के निवेशको की अपने इन्वेस्टमेंट पर बहुत ही ज्यादा रिस्क का सामना करना पड़ता हैं।

शुरुआती (Beginners) लोग अगर शेयर मार्किट में अपने रिस्क को कम करके अच्छी रिटर्न कमाई करना चाहते हो तो आपको हमेशा ही किसी अच्छी फंडामेंटली मजबूत शेयर के अन्दर लम्बे समय के लिए निवेश के बारे में सोचना  चाहिए, और जब उस स्टॉक के अन्दर थोड़ा बहुत गिरावट का माहौल देखने को मिले तब आपको उस शेयर को बेचने की बजाए थोड़ी थोड़ी मात्रा में खरीदारी करने के लिए सोचना चाहिए।

Conclusion Stock Market for Beginners in Hindi

इसमें कोई भी शक नहीं है कि अगर शुरुआती (Beginners) लोग शेयर मार्किट में सही तरीके से इन्वेस्टमेंट शुरु करते हो तो जरुर बहुत ही बेहतरीन रिटर्न मिलते हुवे नजर आनेवाला हैं। नए निवेशकों को सबसे पहले कम समय के अन्दर बड़ी रिटर्न कमाने की लालच को छोड़कर लम्बे समय के लिए निवेश के बारे में सोचना चाहिए।

शेयर मार्किट में ज्यादातर वही लोग बड़ा पैसा बनाते है जो लम्बे समय के लिए किसी अच्छी कंपनीयों के अन्दर इन्वेस्टमेंट करते हैं। बहुत ही ऐसे कम लोग मार्किट में देखने को मिलता है जो ट्रेडिंग के जरिए बड़ा पैसा बनाते है लेकिन लम्बे समय में बड़ी कमाई करनेवाली बहुत सारे ऐसे बड़े बड़े निवेशकों को उदाहरण आपको देखने को मिलेगा।

Stock Market for Beginners F.A.Q.

– शेयर मार्किट में नए लोग शुरुआत कैसे करें?

शेयर मार्किट में नए लोगों को शुरुआत करने के लिए सबसे पहले Demat Account की जरुरत पड़ेगी, Upstox, Zerodha जैसे बहुत सारे ऐसे डिस्काउंट ब्रोकर है जहाँ पर आप बहुत ही आसानी के साथ ऑनलाइन ही अकाउंट को खोल सकते हैं।

– शेयर मार्किट में शुरुआती लोग कितने पैसे से शुरु कर सकते हैं?

शुरुआती लोग शेयर मार्किट में 500 से 1000 रूपया से भी निवेश शुरु कर सकते हैं।

– शुरुआती लोगों शेयर मार्किट में किन स्टॉक को खरीदना सही रहेगा?

हमेशा  शुरुआती लोगों को उन कंपनीयों के स्टॉक को खरीदना चाहिए जिसका बिज़नस भविष्य के हिसाव से अच्छा हो और फंडामेंटल भी मजबूत हो, अगर आप इन कंपनीयों के अन्दर निवेश करते हो तो लम्बे समय के अन्दर बहुत ही अच्छी रिटर्न मिलते हुवे नजर आनेवाला हैं।

– शुरुआती लोगों को स्टॉक कब खरीदना चाहिए?

शेयर मार्किट में शुरुआती लोगों को उस समय स्टॉक को खरीदना चाहिए, जब मार्किट में गिरावट होते नजर आए, जब भी मार्किट में गिरावट होता है ज्यादातर लोग बेचते हुवे नजर आते है इसी मौके का फ़ायदा उठाकर आपको आपको गिरावट के समय ज्यादा से ज्यादा खरीदारी करना चाहिए।

उम्मीद करता हु आपको Stock Market for Beginners in Hindi (शुरुआती लोगों के लिए शेयर बाज़ार हिंदी में) आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको शेयर मार्किट में नए निवेशकों को कैसे निवेश करना चाहिए इसके बारे में बिस्तार जानकारी मिल गए होंगे। अगर आपके मन में अभी भी इस आर्टिकल से जुड़ी कोई भी सवाल याँ फिर हमारे लिए कोई भी सुझाव है तो कमेंट में बताना बिल्कुल भी ना भूले। शेयर मार्किट से जुड़ी इस तरह की महत्वपूर्ण जानकारीयों के साथ अपडेट रहने के लिए आप हमारे अन्य आर्टिकल को भी पढ़ सकते हैं।

Also read:-

Leave a Comment

ऑटो सेक्टर से जुड़ा Eicher Motors Share में हो सकती है बड़ी कमाई, जानिए टारगेट प्राइस गेमिंग सेक्टर की कंपनी Nazara Technologies Share दिखा सकता है बड़ी कमाई, जानिए टारगेट प्राइस भविस्य में Sona BLW Share बड़ी ग्रोथ की तैयारी, क्या करें निवेशक जानिए क्या आनेवाले सालों में Kalyan Jewellers Share दिखा पाएगा बड़ी उछाल, जानिए बिस्तार से 3i Infotech Share बड़ी उछाल की तैयारी में है, क्या निवेश का सही समय है
Join Our WhatsApp Group!